MSME
MSME

क्लाउड कंप्यूटिंग यानी सूक्ष्म, लघु और मध्यम कारोबारियों के लिए एक वरदान!

आखिर क्लाउड कंप्यूटिंग की ओर कोई क्यों रुख करे?

यह बीते दिनों की बात हो चुकी जब हमें आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा करने के लिए अच्छी खासी रकम खर्च करनी पड़ती थी. आज का जमाना क्लाउड कंप्यूटिंग का है!!

  • सूक्ष्म, लघु और मध्यम व्यापारियों (एमएसएमई) के लिए क्लाउड कंप्यूटिंग कई मायनों में वरदान जैसा है जो किन्हीं कारणों से इंफर्मेशन एंड कम्यूनिकेशन टेक्नॉलजी (ICT) सेवाओं में निवेश करने में हिचकते हैं
  • इसमें वे कम लागत में अधिक से अधिक आईटी सेवाएं ले सकते हैं. ऐसे में क्लाउड कंप्यूटिंग एमएसएमई कारोबारियों के लिए फायदे का सौदा साबित होती है
  • कारोबारियों के लिए इसका इस्तेमाल कम लागत वाला साबित होता है क्योंकि इसमें वह केवल उतना ही पैसा चुकाते हैं, जितने का वह उपयोग करते हैं
  • गुड न्यूज यह है कि कुछ विशेष सेवाओं पर शुरू में खर्च होने वाली रकम भी धीरे धीरे कम होने लगती है
  • क्लाउड कंप्यूटिंग के अपने अकाउंट को कारोबारी कहीं से भी एक्सेस कर सकता है
  • क्लाउड कंप्यूटिंग के अपने अकाउंट को वह अपने स्मार्टफोन से लेकर लैपटॉप या डेस्कटॉप, किसी डिवाइस पर, खोल सकते हैं. चाहे आप विश्व के किसी भी हिस्से में क्यों न हों

सरकार द्वारा सूक्ष्म, लघु और मध्यम कारोबारियों के लिए शुरू की गई 'डिजिटल एमएसएमई स्कीम'

इस योजना का फायदा हजारों एमएसएमई उठा रहे हैं, आप भी इनमें से एक हो सकते हैं!

Ministry of MSME has launched सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय ने 'डिजिटल एमएसएमई स्कीम' योजना की शुरुआत की है. इसका उद्देश्य एमएसएमई सेक्टर के बीच इंफर्मेशन ऐंड कम्यूनिकेशन टेक्नॉलजी (आईसीटी) का प्रचार-प्रसार करना है. यह योजना नेशनल मैन्युफैक्चरिंग कॉम्पटीटिवनेस प्रोग्राम (एनएमसीपी) के तहत आती है. यह स्कीम क्लाउड कंप्यूटिंग के इर्द-गिर्द ही काम करती है चूंकि क्लाउड कंप्यूटिंग आज के दौर में न सिर्फ अपेक्षाकृत कम लागत का जरिया बनकर उभरा है बल्कि यह इंफर्मेशन टेक्नॉलजी के इन-हाउस बुनियादी ढांचे को स्थापित करने की तुलना में बेहतरीन विकल्प भी है. क्लाउड कंप्यूटिंग के माधयम से, एमएसएमई केवल इंटरनेट के प्रयोग से न सिर्फ कॉमन बल्कि कस्टमाइज बुनियादी ढांचे तक भी पहुंच बना सकते हैं. साथ ही एमएसएमई क्लाउड कंप्यूटिंग के इस्तेमाल से कई प्रकार के जरूरी सॉफ्टवेयर भी एक्सेस कर सकता है जिनसे उसके कारोबारी हित सधते हों.

योजना का उद्देश्य :

  • इसका लक्ष्य क्लाउड कंप्यूटिंग की दिशा में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में कड़ी प्रतिस्पर्धा से सामना करने के लिए एमएसएमई को बेहतर तरीके से प्रोत्साहित करना है
  • इसकी कोशिश कम लागत और समावेशी डिजिटल एमएसएमई अनुप्रयोगों के ईकोसिस्टम को बढ़ावा देने की है
  • इसके इस्तेमाल से काम के समापन में लगने वाला समय कम होगा

पात्रता के लिए योग्यता :

केवल मान्य उद्योग आधार ज्ञापन (यूएएम) वाले एमएसएमई यूनिट ही, सरकार की इस योजना का लाभ ले सकते हैं

डिजिटल एमएसएमई योजना पंजीकरण फॉर्म के लिए : यहां क्लिक करें


यह स्कीम कैसे काम करती है :

  • क्लाउड सर्विस प्रोवाइडर यानी सीएसपी एमएसएमई से संपर्क करता है और उत्पाद के सभी फीचर्स तथा कीमत इत्यादि के बारे में विस्तार से बताता है
  • एमएसएमई इस सीएसपी के साथ तय सेवाओं का लाभ लेने के लिए अग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करता है
  • सीएसपी इस समझौते के आधार पर एमएसएमई को इनवॉयस भेजता है और एमएसएमई सीएसपी को तयशुदा फीस रिलीज जारी है
  • यह सीएसपी एमएसएमई को सब्सिडी हासिल करने के संबंध में जरूरी गाइडेंस भी मुहैया करवाता है

हमारे उत्पाद और सेवाएं :

ईआरपी

  • ईआरपी स्टैंडर्ड एडिशन
  • ईआरपी प्रफेशनल एडिशन
  • ईआरपी सीआरएम एडिशन
  • ईआरपी पीओएस एडिशन

अकाउंटिंग

  • टैली.ईआरपी 9

ईज़ी बिजनेस सॉल्यूशन्स, डिजिटल एमएसएमई स्कीम के तहत क्लाउड सर्विस प्रोवाइडर (सीएसपी) की सूची में आता है. ईज़ी बिजनेस सॉल्यूशन्स के पास 200 से अधिक विश्वसनीय ग्राहक हैं जिनमें नामी गिरामी कॉरपोरेट्स और एमएमएमई शामिल हैं. हमारे पास इन क्लाइंट्स को सहेजे रखने की 10 सालों की विश्वसनीय विरासत है.

पुरस्कार और उपलब्धियां

SME of the Year-2016 by Assocham

Emerging Enterprenuer YEAR - 2016 BY SME Channel

Winner of TOP 100 SME in India

ERP Solution of the Year-2016